दिल्ली विधानसभा चुनाव 2013 के रोचक तथ्य

नई दिल्ली। दिल्ली की कुल 70 विधानसभा सीटों पर हो रहे मतदान में कुछ रोचक तथ्य जुड़ गए हैं। आइए जानते हैं ये क्या हैं?

-सुल्तानपुरी माजरा, पटेल नगर और देवली विधानसभा सीट से एक भी निर्दलीय प्रत्याशी चुनाव मैदान में नहीं हैं।

-सबसे अधिक निर्दलीय 8 प्रत्याशी मटियाला विधानसभा से चुनाव लड़ रहे हैं। यहां कुल 19 प्रत्याशी हैं।

-कांग्रेस आज तक जनकपुरी व हरिनगर तथा भाजपा उत्तम नगर व नजफगढ़ सीट नहीं जीत पाई।

-कांग्रेस ने आज तक रोहिणी सीट और भाजपा ने मंगोलपुरी से जीत का स्वाद नहीं चखा।

-करोलबाग वह सीट है, जहां कांशीराम ने बहुजन समाज पार्टी का गठन किया था।

-विधानसभा चुनाव में 99 फीसद निर्दलीय उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो जाती है।

-वर्ष 1993 में 762, वर्ष 1998 में 347 और साल 2003 में 278 निर्दलीय उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गई थी।

-इस बार विधानसभा चुनाव में 129 दागी उम्मीदवार भाग्य आजमा रहे हैं। इनमें कांग्रेस के 21 फीसद व भाजपा के 46 फीसद प्रत्याशी शामिल हैं।

-93 प्रत्याशियों पर हत्या के मामले हैं।

-सबसे अधिक संपत्ति वाला उम्मीदवार राजौरी गार्डन सीट से लड़ रहे मनजिंदर सिंह सिरसा 235.51 करोड़ रुपये हैं। (शिरोमणि अकाली दल)

-न्यूनतम संपत्ति वाला उम्मीदवार अंबेडकर नगर से भाजपा प्रत्याशी खुशीराम 8.27 लाख रुपये हैं।

-मुंडका, दिल्ली कैंट तथा बुराड़ी के दो उम्मीदवारों ने अपनी संपत्ति शून्य घोषित की है।

-कोंडली विधानसभा सीट से सीपीआइएम के रामरूप ने अपनी संपत्ति 2 हजार रुपये घोषित की है।

-भाजपा के सतप्रकाश राणा सबसे अमीर विधायक हैं। इनकी संपत्ति 111.89 करोड़ रुपये है।

-नई दिल्ली विधानसभा सीट से मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के खिलाफ साल 2008 में 25 उम्मीदवार थे, जबकि इस बार 17 हैं।

-आरक्षित विधानसभा क्षेत्र- 12

-सबसे ज्यादा मतदाताओं वाला विधानसभा क्षेत्र : विकासपुरी ( 2,85,994)

-सबसे कम मतदाता वाला विधानसभा क्षेत्र : चांदनी चौक (1,06,559)

-क्षेत्रफल के हिसाब से सबसे बड़ा विधानसभा क्षेत्र : नरेला

-क्षेत्रफल के हिसाब से सबसे छोटा विधानसभा क्षेत्र : बल्लीमारान

मतदान केंद्र से संबंधित आंकड़े

-कुल मतदान केंद्र : 11,763

-कुल मतदान परिसर : 2,603

-प्रति मतदान केंद्र पर मतदाताओं की औसत संख्या : 1014

-आदर्श मतदान परिसर- सभी नौ जिलों में एक-एक आदर्श मतदान परिसर बनाया गया है। इन सभी नौ परिसरों में मतदाताओं के लिए कुल 45 आदर्श मतदान केंद्र स्थापित किए गए हैं।

-संवेदनशील मतदान परिसर : 543

-अति संवेदनशील मतदान केंद्र : 139

इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन

-मतदान केंद्र पर मतदान के लिए दो तरह के ईवीएम बैलेट यूनिट तथा कंट्रोल यूनिट रखा जाता है। अमूमन एक मतदान केंद्र पर एक कंट्रोल यूनिट के साथ प्रति 15 उम्मीदवारों पर एक बैलेट यूनिट रखा जाता है। बैलेट यूनिट में 16 बटन होते हैं, जिसमें 15 बटन उम्मीदवारों के लिए तथा 16 वां बटन नोटा के लिए होगा।

-12 विधानसभा क्षेत्र ऐसे हैं जहां दो (बैलेट यूनिट) ईवीएम लगाने पड़ेंगे।

-कुल इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन : 16,081 बैलेट यूनिट तथा 12,550 कंट्रोल यूनिट

-मतदान केंद्रों पर स्थापित ईवीएम : 11,993 कंट्रोल यूनिट तथा 14,272 बैलेट यूनिट

-आरक्षित रखे गए ईवीएम : 1,557 कंट्रोल यूनिट तथा 1,809 बैलेट यूनिट (15 फीसद ईवीएम आरक्षित रखा जाता है, जिससे कि कहीं किसी तरह की गड़बड़ी हो तो उसे बदला जा सके।)

-कांग्रेस ने सभी 70 सीटों पर उम्मीदवार उतारे हैं।

-भाजपा ने 68 सीटों पर प्रत्याशी उतारे हैं।

-बुराड़ी विधानसभा सीट से सबसे अधिक 23 प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं।

-पटेल नगर विधानसभा सीट से सबसे कम 4 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं।

-क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे बड़ा विधानसभा क्षेत्र नरेला है। (143.42 वर्ग किमी)

-विकासपुरी विधानसभा क्षेत्र में सबसे अधिक 2,82,632 मतदाता हैं।

-दिल्ली कैंट में सबसे कम 85,821 मतदाता हैं।