2007 के बाद कुवैत में तीन को फांसी की सजा

कुवैत। कुवैत में सोमवार को हत्या के लिए दोषी ठहराए गए तीन लोगों को फांसी दे दी गई। इस खाड़ी देश में मई, 2007 के बाद से दी गई यह पहली फांसी है। न्याय मंत्रालय द्वारा जारी बयान में यह बात कही गई है।

मंत्रालय के मुताबिक कुवैत शहर के पश्चिम में स्थित सेंट्रल जेल में एक पाकिस्तानी और एक सऊदी अरब के नागरिक को फांसी दी गई। तीसरा अरब देश से ही है, लेकिन उसकी नागरिकता का पता नहीं चल पाया है। पाकिस्तानी नागरिक को कुवैत के एक दंपति की हत्या करने और सऊदी अरब के नागरिक को अपने ही हमवतन की हत्या के मामले में फांसी हुई है। तीसरे व्यक्ति को अपनी पत्नी और पांच बच्चों की हत्या का दोषी ठहराया गया था। कुवैत ने छह साल पहले बिना कोई कारण बताए फांसी की सजा पर रोक लगा दी थी।

स्थानीय समाचार पत्र अल शाबास के मुताबिक करीब 44 लोग फांसी पाने की कतार में हैं। कुवैत में 1960 में फांसी की सजा शुरू होने के बाद से कुल 69 पुरुष और तीन विदेशी महिलाओं को फांसी दी जा चुकी है।